Newsflash

Dainik Jagran 29 December 2010 PDF E-mail

कब्ज रोगों की जननी : सक्सेना

पट्टीकल्याणा स्थित गांधी स्मारक निधि में चल रहे शिविर में डॉ. विकास सक्सेना ने कहा कि स्वस्थ शरीर स्वस्थ दिमाग के निर्माण में सहायक होता है। स्वस्थ रहने की पहली शर्त लोगों के पाचन शक्ति का सुदृढ़ होना है। शरीर में भोजन का ठीक से पाचन नहीं होने के कारण ही लोग बीमार पड़ते हैं। कब्ज रोगों की जननी है। आज के समय में हर व्यक्ति को कब्ज की शिकायत रहती है जिस कारण लोग बीमार होते हैं। भोजन में अनियमितता के कारण लोगों को कब्ज होता है। बाजार में मिलने वाले तले-पके चीजों से दूर रहने और साग-सब्जी अधिक खाने से लोगों को कब्ज नहींहो सकता है। सक्सेना ने कहा कि यदि लोग प्रतिदिन खाद्य चीजों में एक चौथाई भोजन कच्चा खाया जाय तो कब्ज से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि शिविर में आए रोगियों को योग, प्राणायाम व प्राकृतिक चिकित्सा द्वारा उपचार किया जा रहा है। यह शिविर सीसीआरवाईएन नई दिल्ली के सौजन्य से आयोजित किया गया।

Source - Dainik Jagran